Friday, July 19, 2024

Motihari Crime : बिहार सरकार में भू-माफिया का आतंक, मोतिहारी में गिराया पत्रकार का घर

पटना : बीते दिन सोमवार, 24 जून को मोतिहारी से बड़ी ख़बर सामने आई। जिले में कुछ भू माफियाओं का आतंक इस कदर बढ़ गया कि वो दिन दहाड़े एक पत्रकार के घर को निशाना बनाते हुए ढाह दिया। बता दें कि भू माफिया इतने बेख़ौफ़ होकर पत्रकार के घर पहुंचा, जहां बीना किसी डर से घर को तोड़ने फोड़ने लगा। बताया जा रहा है कि माफियाओं का आतंक इस कदर देखा गया जैसे उसके ऊपर किसी बड़े अधिकारी का हाथ हो। हालांकि पत्रकार ने चकिया थाना अध्यक्ष को फोन कर घर पर हो रहे माफियाओं के गुंडागर्दी की जानकारी दी तो उन्होंने जवाब में कहा कि अभी हम दूसरे जगह जा रहे हैं।

थाना से 200 गज की दूरी पर है पत्रकार का घर

सबसे चौंका देने वाली बात यह कि, चकिया थाना से पत्रकार के घर की दूरी महज 200 गज के दूरी पर है। जहां सोमवार को दिन के उजालें में कुछ भू माफियाओं ने पत्रकार के घर को निशाना बनाते हुए ढाह दिया। उनके कैम्पस में बने निजी कमरे में भी तोड़फोड़ शुरू कर दिया. वहीं, थाना अध्यक्ष ने पत्रकार की शिकायत को अनसुना करते हुए बात को टाल दिया। हालांकि पत्रकार ने हार नहीं मानी और उन्होंने 112 पर फोन लगाया. करीब 30 मिनट बाद चकिया थाना की पुलिस की गाड़ी पत्रकार के घर पहुंची, लेकिन किसी पर भी कोई कार्रवाई नहीं किया. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस की गश्ती गाड़ी के मौजूदगी में भू-माफिया घर मे तोड़फोड़ करते रहे. भू माफिया के डर से पत्रकार की पत्नी और बच्चे घर के एक कोने में दुबके रहे. इन दौरान भू-माफिया घर पर पथराव भी करता दिखा।

24 घंटे बाद भी मामला दर्ज नहीं हुआ

वहीं चकिया थाना की तरफ से भू-माफिया पर शुरुआती में कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके अलावा जब पत्रकार द्वारा चकिया थाना में आवेदन दिया गया तो 24 घंटे बाद भी एफआईआर तक दर्ज करना पुलिस वालों ने मुनासिब नहीं समझा. इस घटना के बाद से पत्रकार की पत्नी अब सदमे में है और चकिया रेफरल अस्पताल में एडमिट है. हालांकि पत्रकार ने मोतिहारी के SP कान्तेश मिश्रा को भू-मफिया के आतंक का वीडियो भेज दिया है। साथ ही पत्रकार को उम्मीद है कि एसपी इस मामले को गंभीरता से लेते हुए न्याय जरूर दिलाएंगे। वहीं, एसपी कान्तेश मिश्रा ने मामले में संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज कर भू-माफिया को अरेस्ट करने का निर्देश दिया है.

जानें मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, भू-माफिया ने पत्रकार की जमीन को किसी से बेच दिया है और अब पत्रकार की जमीन पर कब्जा करने के लिए लगातार उसके घर पहुंचता है। जहां पहुंचने के बाद आतंक फैलाता है। सबसे अहम बात यह भी सामने आई है कि भू-माफिया में शामिल एक युवक कोई और नहीं पत्रकार का दूर का रिश्तेदार है. कहा जा रहा है कि चकिया में जिस तरह से दिन के उजाले में बदमाशों ने घर पर तोड़फोड़ किया और जिस प्रकार से पुलिस की मौजूदगी में दबंग तोड़फोड़ करते रहे. इसको देखने के बाद अब पुलिस के महकमे पर सवाल उठने लगा है.

Latest news
Related news