Tuesday, June 25, 2024

स्कूल में बच्चों का हुआ बुरा हाल, कई स्टूडेंट्स हुए बेहोश

पटना। बिहार में भीषण गर्मी के बावजूद आज से स्कूल खुल गए है। पहले ही दिन गर्मी ने बच्चो को परेशान कर दिया। दोपहर तक राज्य के 12 जिलों में करीब दो दर्जन बच्चे गर्मी की वजह से बीमार पड़ गए हैं. इनमें से कई बच्चों को प्राथमिक उपचार देकर घर भेजा गया, वहीं कुछ बच्चों को अस्पताल में भी एडमिट कराना पड़ा है.बिहार में इस समय भीषण गर्मी के बावजूद स्कूल खुल गए हैं.

घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया

इस झुलसा देने वाली गर्मीं के बीच स्कूल आने की वजह से राज्य के कई जिलों में बच्चों की तबियत खराब हो गई है। शिक्षक भी इस गर्मी में बेहाल नजर आ रहे हैं। गर्मी से प्रभावित सभी बच्चों और शिक्षकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह स्थिति राज्य के खगड़िया, बांका, जमुई समेत दर्जन भर जिलों में है। खगड़िया में एक बच्चे की तबियत खराब हुई है तो शेखपुरा और बांका में पांच बच्चे बीमार पड़ गए। इसी प्रकार जमुई में चार, पटना के बिहटा में एक और बक्सर में एक बच्चे की तबीयत इस गर्मी की वजह से बिगड़ गई है। इनमें से कुछ बच्चों को तो मौके पर ही प्राथमिक उपचार दिया गया। वहीं कई बच्चों की हालत नाजुक देखकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। बक्सर में तो एक बच्ची अचानक से बेहोश होकर गिर पड़ी। समय रहते एंबुलेंस नहीं पहुंची तो शिक्षक और अभिभावक उसे खटिया पर लेटाकर अस्पताल ले गए। इधर, जैसे ही बच्चों या शिक्षकों की तबियत खराब होने की जानकारी अभिभावकों को मिली, लोगों ने स्कूल पहुंच कर हंगामा शुरू कर दिया।

परिजनों को घायल बच्चों की सूचना दी गई

बता दें कि इससे पहले 1 जून स्कूल खोलने के आदेश हुए थे। हालांकि उस समय भीषण गर्मी की वजह से 10 दिनों तक छुट्टी बढ़ाने के आदेश जारी किए गए थे। अब अभिभावकों का कहना है कि अभी भी राज्य में हर जगह तापमान 40 से अधिक है। चूंकि किसी भी स्कूल में गर्मी से बचाव के इंतजाम नहीं हैं, ऐसे में बच्चों को पूरे दिन स्कूल में बुलाकर पढ़ाई कराने का फैसला गलत है। खगड़िया जिले के बख्तियारपुर स्कूल में प्रार्थना सभा के दौरान एक बच्ची बेहोश होकर गिर गई। इससे स्कूल में हड़कंप मच गया। आनन फानन में उसे प्राथमिक उपचार दिया गया। बच्ची की हालत सुधरी तो शिक्षकों ने तुरंत उसके परिजनों को सूचित किया और घर भेज दिया। इस स्कूल के शिक्षक प्रवीण कुमार ने बताया कि छठीं कक्षा की छात्रा पूजा कुमारी अचानक बेहोश हो गई थी। प्राथमिक उपचार के बाद उसे घर भेज दिया गया है। बिहार के सारण में गर्मी की वजह से होने वाली बीमारियों का प्रकोप खूब देखा जा रहा है। लू लगने की वजह से लोगों में लूज मोशन, उल्टी-दस्त, पेट दर्द, बुखार, प्यास आदि के मरीज अस्पतालों में तेजी से बढ़े हैं।

Latest news
Related news